• $4.99

Publisher Description

हम भले सुख को प्राप्त करने का सजग प्रयास न करें, परंतु हम सभी अपने जीवन में दु:ख को कम करने की चाहत रखते हैं। और जब हम ऐसा करते हैं, हम स्वाभाविक रूप से ध्यान देते हैं कि हमारी प्रसन्नता का अनुपात बढ़ जाता है।

हम अप्रसन्नता को यदि समाप्त नहीं, तो कम कैसे कर सकते हैं? एक पुरानी कहावत है कि सभी सड़कें रोम की तरफ जाती हैं, जिसका अर्थ है कि एक ही लक्ष्य के कई रास्ते हैं। यह अपने जीवन में अप्रसन्नता को कम करने पर भी लागू होता है, जो इस बात पर निर्भर करता है कि हमें सबसे अधिक दु:ख किस चीज से होता है।

GENRE
Health, Mind & Body
RELEASED
2014
November 16
LANGUAGE
HI
Hindi
LENGTH
120
Pages
PUBLISHER
Prabhat Books
SELLER
Bhartiya Sahitya Inc.
SIZE
9.7
MB