• USD 1.99

Descripción de editorial

९ अक्टूबर २०१२ का दिन था. मलाला अपने सहपाठियों के साथ इम्तेहान के दिन स्कूल से घर वापिस आ रही थी. उस स्कूल की स्थापना मलाला के पिता ने की थी.

अचानक एक जगह सड़क पर एक नौजवान ने हाथ हिलाकर बस को रोका और बस के अंदर घुस गया. उसने पूछा, "मलाला कौन है?"

जब बस के अंदर बैठी हुई सभी लड़कियां मलाला की तरफ देखने लगी उस नौजवान ने एक बन्दूक निकाल ली और उसके चेहरे पर गोली दाग दी. उसने दो गोलियां और चलायी और वो गोलियां साथ बैठी लड़कियों को लगी.

GÉNERO
Referencia
PUBLICADO
2018
noviembre 13
LENGUAJE
HI
Hindi
EXTENSIÓN
33
Páginas
EDITORIAL
Raja Sharma
VENDEDOR
Smashwords, Inc.
TAMAÑO
179.5
KB

Más libros de Raja Sharma