• 3,99 zł

Publisher Description

योगद्वारास्वस्थजीवन—बी.के.एस.आयंगर‘योग’एकतपस्याहै।शरीरकोनिरोगएवंसशक्‍तबनानेकीएकसंपूर्णविधिहै‘योग’।योगअसाध्यरोगोंकोभीदूरभगाताहै।आजसंसारभरकेलोगयोगऔरइसकेचमत्मकारीप्रभावोंकेप्रतिआकर्षितहैं।विश्‍वप्रसिद्धयोगगुरुबी.के.एस.आयंगारकीइसपुस्तक‘योगद्वारास्वस्थजीवन’मेंआसनकिसप्रकारकिएजाएँ;किसप्रकारहोनेवालीगलतियोंकोटालाजासकताहैऔरअधिकतमलाभप्राप्‍तकियाजासकताहै;इनबातोंकोआमलोगोंतकपहुँचानेकाप्रयासकियागयाहै।

योगकेद्वाराकैसेव्यक्‍तियोंकाउपचारकियाजाए;इसकात्रुटिहीनअभ्यासकरतेहुएअधिकाधिकलाभकैसेप्राप्‍तकियाजाए—इसकासचित्रवर्णनकियागयाहै।

पुस्तककाउपयोगकरनाआसानवसरलहो;इसदृष्‍टिसेपुस्तककेअंतमेंदोपरिशिष्‍टजोड़ेगएहैं।परिशिष्‍ट1मेंआसनक्रमांकऔरआसनोंकेनामदेकरउनकावर्गीकरणप्रस्तुतकियागयाहै।परिशिष्‍ट2मेंकिसरोगमेंकिसआसनसेलाभहोगा;उनकावर्णनहै।

स्वस्थजीवनकामार्गदिखानेवालीसरल-सुबोधभाषामेंयोगपरएकअनुपमकृति।

GENRE
Fiction & Literature
RELEASED
2020
November 18
LANGUAGE
HI
Hindi
LENGTH
306
Pages
PUBLISHER
Prabhat Prakashan Pvt Ltd
SIZE
9.3
MB

More Books by B.K.S. Iyengar