मुल्ला नसीरुद्दीन के किस्से (Hindi Humour‪)‬

Mulla Nasiruddin Ke Kissey (Hindi Jokes)

    • $0.99
    • $0.99

Publisher Description

मुल्ला नसीरुद्दीन का नाम जुबां पर आते ही हमारे दिल-दिमाग में एक मुस्कराता सा चेहरा उभर आता है। ज्यादातर लोग यही समझते हैं कि वह गुजरे जमाने का कोई मसखरा नहीं बल्कि एक फक्कड़ शख्स था, जो बुखारा की उस समय की अन्यायपूर्ण व्यवस्था का सबसे प्रबल विरोधी था। वह सिरदर्द था अमीरों का क्योंकि वह अन्याय के खिलाफ लोगों में जागृति पैदा कर रहा था। वह दुश्मन था सूदखोरों का, जो जोंक की भांति गरीब रिआया का खून चूस रहे थे। वह निःस्वार्थ परोपकारी था। अमीरों, सूदखोरों और भ्रष्ट राजदरबारियों को कंगाल करके वह उस दौलत को गरीबों में बांट दिया करता था।

GENRE
Humor
RELEASED
2015
January 23
LANGUAGE
HI
Hindi
LENGTH
60
Pages
PUBLISHER
Bhartiya Sahitya Inc.
SELLER
Bhartiya Sahitya Inc.
SIZE
243.7
KB

More Books by Gopal Shukla

2013
2014
2013
2013
2013
2013